बीजेपी का दावा- यूपी में संगठित अपराधों की कमर तोड़ने वाला साल साबित हुआ 2017

सौरभ शर्मा Edited by: [मधु शर्मा] लखनऊ
January 1, 2018 11:08 pm

यूपी के इतिहास में 2017 कई मायनों में याद किया जाएगा। कानून व्यवस्था से लेकर समूची सरकार से त्रस्त जनता ने भाजपा सरकार बनाई और योगी सरकार ने जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरने का कार्य कर रही है। 2017 में कानून व्यवस्था, बिजली और शिक्षा से लेकर लोक सेवा आयोग से भ्रस्टाचार खत्म करने की दिशा में योगी सरकार ने कठोर कदम उठाए हैं।

 

बीजेपी प्रवक्ता मनीष शुक्ल ने कहा कि योगी सरकार को जंगलराज विरासत में मिला, लेकिन सरकार की दृढ़ इच्छाशक्ति के आगे माफियाओं टूट गए। एक तो उन्हें राजनैतिक सरंक्षण मिलना बंद हुआ और दूसरा यह कि अपराधियों पर वही पुलिस नकेल कसने लगी जो गुंडों से सपा सरकार में पिटती थी। तमाम गुंडे अंडरग्राउंड हो गए और बाकी उत्तर प्रदेश छोड़ कर भाग गए।

 

जिन अपराधियों ने पुलिस के काम मे व्यवधान उत्पन्न किया या करने की कोशिश कि उसे पुलिस ने ढेर कर दिया। इस प्रकार के करीब 29 दुर्दांत अपराधियों का पुलिस ने एनकाउंटर कर जनता को राहत दिलाने का काम किया है। कानून का राज स्थापित करना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता में है। अपराधी कोई भी हो वो बचेगा नहीं। जो भी अपराधिक घटनाएं घटती हैं उनपर पुलिस बहुत तेजी से कार्यवाही करती है।

 

योगी सरकार ने यूपीकोका जैसे कानून को लाकर यह बता दिया है कि वह किसी भी तरह के अपराध को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 2017 में योगी सरकार ने संगठित अपराध की कमर तोड़ दी है। 2018 में भी इसके लिए प्रयास अनवरत जारी है।

Categorised in: , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Popular stories

देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का... View Article

मध्य प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन अपनी पांच सूत्री मांगों के... View Article